जब बिजली ही नहीं मिलेगी तो कैसे चलेंगे उद्योग ? सेलाकुई ओद्योगिक क्षेत्र में बिजली गुल…

ख़बर शेयर करें

देहरादून, राज्य सरकार यूं तो उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए तरह-तरह की योजना बना रही है लेकिन उत्तराखंड पावर कॉरपोरेशन आज भी अपने पुराने ढर्रे पर ही टिका हुआ है आलम यह है कि एमएसएमई के तहत संचालित तमाम उद्योग आज भी बिना बिजली के ठप्प पड़े रहे, जिसको लेकर उद्योगपति लगातार विभाग व सरकार के सामने व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए प्रस्ताव भेजते रहे हैं लेकिन अभी तक उस प्रस्ताव पर कोई ठोस कार्यवाही नहीं हुई, जिससे यह कहा जा सके कि राज्य में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए विभागों की दिलचस्पी है।। उद्योगों में काम बंद होने से जहां औद्योगिक इकाइयों को प्रतिदिन आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है तो वही विद्युत विभाग के खिलाफ भी उद्योगपतियों में नाराजगी है। एफआईएयू के स्टेट कोडिनेटर अनिल मारवाह ने कहा कि सरकार ने समय रहते इस के लिये प्रभावी कदम न उठाए अथवा पहले से स्थापित उद्योगों की समस्याओं के समाधान के लिए समय रहते गम्भीरता न दिखाई तो नये निवेशकों के लिये तो खराब संदेश जाएगा, पहले से स्थापित उद्योग अपने विस्तार व नए निवेश की योजनाओं से हाथ भी पीछे खींच सकते हैं।