चंदन राम दास को हेली ना मिलने पर अध्यक्ष बोले इंदिरा हरदेश को भी किया गया था एयर लिफ्ट…?

ख़बर शेयर करें

देहरादून, कैबिनेट मंत्री चंदन रामदास के निधन के बाद अब सिस्टम पर सवाल खड़े हो रहे हैं कांग्रेस के नेताओं ने शासन के 2 बड़े और जिले के अधिकारियों पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि चंदन राम दास के द्वारा हेलीकॉप्टर मांगा गया था लेकिन अधिकारियों के द्वारा इसमें हीला हवाली की गई, जिसके चलते कैबिनेट मंत्री चंदन रामदास आज हमारे बीच नहीं है, तो वहीं भाजपा कांग्रेस पर राजनीति करने का आरोप लगा रही है। दरअसल बागेश्वर में तबीयत बिगड़ने के बाद कैबिनेट मंत्री चंदन रामदास के द्वारा जिले से लेकर शासन के अधिकारियों से हेलीकॉप्टर की डिमांड की गई थी लेकिन बेलगाम अधिकारियों ने मामले की गंभीरता कोई ही नहीं समझा और जिसका खामियाजा राज्य के एक वरिष्ठ मंत्री चंदन राम दास को भुगतना पड़ा।। कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री नवीन जोशी ने आरोप लगाते हुए कहा कि शासन के अधिकारियों को फोन किए गए लेकिन ब्यूरोक्रेसी की लापरवाही मंत्री के ऊपर भारी पड़ी आज भले ही सरकार और सिस्टम इस बात से इंकार कर रहे हो लेकिन मामले में पर जांच की जरूरत जरूर महसूस हो रही है।। कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि जब सरकार अपने मंत्रियों को बचाने में ही नाकाम साबित हो रही है तो फिर आम जनता के प्रति सिस्टम का व्यवहार किस प्रकार का होगा। इसे आसानी से समझा जा सकता है कांग्रेस के नेताओं ने मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग भी की है।।वहीं कांग्रेस के आरोपों पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेश मृत आत्मा पर भी राजनीति करने का काम कर रही है जो सही नहीं है भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने मामले पर अलग ही तर्क देते हुए कहा कि एयर एंबुलेंस से इंदिरा हरदेश को भी भेजा गया था लेकिन उन्हें नहीं बचाया जा सका।। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि चंदन राम दास को वही पर उचित स्वास्थ्य सुविधाएं दी गई थी।।चंदन राम दास की मौत के बाद अब सिस्टम की कलई खुलकर सामने आ गई है कॉन्ग्रेस नेता ने शासन के दो अधिकारियों पर इसका जिम्मेदार होने का आरोप लगाया तो वह भाजपा के नेता कॉन्ग्रेस पर राजनीतिक आरोप लगाते हुए मामले से ही बचते हुए दिखाई दे रहे हैं।।