सीएम धामी ने एडवेंचर फेस्ट का किया उद्घाटन, आज मनाया गया विश्व पर्यटन दिवस

ख़बर शेयर करें

देहरादून: विश्व पर्यटन दिवस को चिह्नित करने के लिए, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दो दिवसीय उत्तराखंड एडवेंचर फेस्ट के दूसरे दिन का उद्घाटन किया। उद्घाटन समारोह, उत्तराखंड के पर्यटन एवं सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज और उत्तराखंड के एमएसएमई मंत्री गणेश जोशी की मौजूदगी में हुआ।

दो दिवसीय उत्सव का आयोजन फिक्की फ्लो – एम्पॉवरिंग द ग्रेटर 50% द्वारा उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड के सहयोग से किया गया ।

विश्व पर्यटन दिवस पर सभी को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री धामी ने कहा, “हमारे राज्य उत्तराखंड में प्राकृतिक सुंदरता और संसाधनों की प्रचुरता है, और इस प्रकार हमारा राज्य स्विट्जरलैंड की बराबरी करने की क्षमता रखता है। मैं हमारे माननीय प्रधान मंत्री जी का उत्तराखंड के पर्यटन क्षेत्र के प्रति विशेष विचारधरा रखने के लिए आभारी हूँ। हम उत्तराखंड की पहाड़ियों में एक मजबूत रेलवे नेटवर्क बनाने की प्रक्रिया में हैं, जो कुछ साल पहले सिर्फ एक सपना था। इसके अलावा, हमारे पास उत्तराखंड में आल वेदर सड़कों और विश्व स्तरीय राजमार्गों का एक विशाल नेटवर्क है जो की पर्यटन को समर्थन और बढ़ावा देने में सक्षम है। हम राज्य के प्रत्येक औद्योगिक क्षेत्र में नई नीतियां तैयार करने की प्रक्रिया में हैं, जिससे बड़े पैमाने पर हमारे सभी हितधारकों को लाभ होगा। मैंने आधिकारिक तौर पर 4 जुलाई से कार्यालय संभालना शुरू करा था और चार धाम यात्रा के साथ शुरू करने का वचन देते हुए पहले दिन से पर्यटन क्षेत्र में सक्रिय रूप से योगदान देना शुरू कर दिया था। कई बाधाओं का सामना करने के बाद, आज उत्तराखंड की चार धाम यात्रा सफलतापूर्वक चल रही है। अंत में, मैं चाहता हूँ कि आने वाले कल में हमारी देव भूमि देश की जानी मानी पर्यटन राजधानी के रूप में उभरे।”

यह भी पढ़ें -  बीजेपी सांसद अनिल बलूनी ने मेदांता अस्पताल में इलाज करा रही केदरानाथ विधायक शैलारानी रावत से की मुलाकात

उत्तराखंड में पर्यटन क्षेत्र की दिशा में की गई पहल पर प्रकाश डालते हुए उत्तराखंड के पर्यटन और सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने कहा, “विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर, मैं चाहता हूं कि हम सभी अच्छे सेवा प्रदाता बनें ताकि हमारे राज्य उत्तराखंड के पर्यटन क्षेत्र को हम अपनी विश्व स्तरीय सेवाओं का पूर्ण लाभ दे सकें। हम पर्यटन क्षेत्र में कई आगामी नीतियों और विकासों का जल्द ही लाभ उठा पाएंगे, जिनमें से एक हरिद्वार जिले में नियोजित अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा है। यह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा उत्तराखंड में दुनिया के विभिन्न देशों से पर्यटकों के लिए रास्ता खोलेगा और राज्य के पर्यटन को बढ़ावा देने में काफी मदद करेगा। इसके आलावा, पर्यटन क्षेत्र में इलेक्ट्रिक वाहनों / ईवी को लाना एक एहम कदम साबित होगा। इलेक्ट्रिक वाहनों की मदद से हम उत्तराखंड में पर्यटन को और सशक्त बना सकेंगे और एक स्वच्छ व सुरक्षित पर्यावरण को सुनिक्षित कर सकेंगे।”

यह भी पढ़ें -  वीडियो वॉयरल….. तो क्या हरिद्वार पुलिस के साथ हुई नोकझोक के बाद पुलिस को मिली परिवार के पास अवेध पिस्टल ? हुई कार्रवाई

उत्तराखंड एडवेंचर फेस्ट के अवसर पर दर्शकों को संबोधित करते हुए, उत्तराखंड के एमएसएमई मंत्री गणेश जोशी ने कहा, “मुझे बेहद ख़ुशी है की मैं उत्तराखंड की सबसे खूबसूरत जगहों में से एक, मसूरी का विधायक हूँ। मुझे वास्तव में इस तथ्य पर गर्व है कि उत्तराखंड ने अपने पर्यटन क्षेत्र के लिए इतना काम किया है, जो देश के किसी अन्य राज्य ने नहीं किया है। दो आगामी परियोजनाएं जिनका मैं उल्लेख करना चाहूंगा, वे हैं ‘देहरादून-मसूरी सुरंग परियोजना’ और ‘पुरूकुल-मसूरी रोपवे परियोजना’। ये परियोजनाएं हमारे राज्य के पर्यटन क्षेत्र के लिए बड़े पैमाने पर एक वरदान होंगी।”

उत्तराखंड एडवेंचर फेस्ट के आखिरी दिन पर राज्य भर से साहसिक उत्साही लोगों की भारी भीड़ उमड़ी।

कार्यक्रम के दौरान ‘एडवेंचर टूरिज्म’ नामक सत्र का आयोजन किया गया। सत्र के दौरान पैनलिस्ट के रूप में निदेशक नुंग्शी ताशी एडवेंचर्स प्राइवेट लिमिटेड कर्नल वीरेंद्र मलिक, नदी विशेषज्ञ और कयाक प्रशिक्षक अन्वेश थापा, संस्थापक ग्लोबल हिमालयन एक्सपेडिशन पारस लूंबा एवं लेखक एंड हेड इंटरनेशनल सेंटर ऑफ इंटीग्रेटेड माउंटेन डेवलपमेंट अनु लामा उपस्थित रहे। सत्र का संचालन ग्रीन एक्टिविस्ट इरा चौहान द्वारा किया गया।

यह भी पढ़ें -  श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में रक्तदान के प्रति जागरूकता की अलख जगाई

इसके बाद, ‘रिस्क मैनेजमेंट एंड सेफ्टी मेजर्स इन दी ऑउटडोर्स’ शीर्षक से एक और सत्र आयोजित किया गया। इस सत्र के पैनलिस्ट में एयर रेस्क्यू एंड मेडिसिन एयर वाइस मार्शल दीपक गौड़, लेखक और स्वतंत्र पत्रकार हृदयेश जोशी, प्रोजेक्ट एडिटर आउटलुक ट्रैवलर सोइटी बनर्जी और स्वतंत्र फिल्म निर्माता नेहा दीक्षित उपस्थित रहे। सत्र के मॉडरेटर के रूप में कार्यकारी निदेशक उत्तराखंड राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण मेजर राहुल जुगरान मौजूद रहे।

कार्यक्रम के दौरान एनएएफ चैप्टर के अखिल भारतीय अध्यक्ष लेफ्टिनेंट जनरल धवन द्वारा ‘ए टॉक ऑन एडवेंचर इन इंडिया एंड उत्तराखंड’ शीर्षक पर एक वार्ता सत्र भी आयोजित किया गया।

उत्तराखंड एडवेंचर फेस्टिवल में एडवेंचर से संबंधित गतिविधियों और कार्यशालाओं की एक श्रृंखला देखी गई, जिसमें बेसिक नॉट्स वर्कशॉप, बैकपैक एसेंशियल वर्कशॉप, बच्चों के लिए आउटडोर एजुकेशन वर्कशॉप, वेस्ट वारियर्स वर्कशॉप एवं स्थानीय म्यूज़िक बैंड्स द्वारा संगीतमय प्रस्तुतियां देखने को मिली।

एडवेंचर फेस्ट के दौरान राज्य संयोजक, फिक्की फ्लो – एम्पॉवरिंग द ग्रेटर 50% डॉ नेहा शर्मा, टूरिज्म विंग की स्टेट कंसल्टेंट, फिक्की फ्लो – द ग्रेटर 50% किरण भट्ट टोडारिया, उत्तराखंड पर्यटन और सीईओ यूटीडीबी दिलीप जावलकर, संस्थापक केएसएम फिल्म प्रोडक्शंस कुनाल शमशेरे मल्ला, वाइस-चेयरपर्सन फिक्की फ्लो उत्तराखंड अनुराधा मल्ला, कर्नल अश्विनी पुंडीर एवं अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।